फ्रैक्‍चर के बावजूद रानी चटर्जी ने निभाया ढाबे वाली का किरदार

भोजपुरी अभिनेत्री रानी चटर्जी ने अपनी आने वाली भोजपुरी फिल्‍म ‘ये इश्‍क बड़ा बेदर्दी है’ को लेकर एक अहम खुलासा मुंबई में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान किया. उन्‍होंने बताया कि फिल्‍म ‘ये इश्‍क बड़ा बेदर्दी है’ की शूट जब बिहार के बिहटा सहर में होने वाली थी, तब उनका पैर फ्रैक्‍चर था. इस दौरान उन्‍होंने शूट करने से मना कर दिया था निर्देशक को , मगर फिल्‍म के निर्देशक राम यादव ने उन्‍हें मना लिया उन्‍होंने कहा कि आप रेडी हो जाइए, हम सब करा लेंगे. इसी भरोसे के कारण रानी चटर्जी फिल्‍म में ढाबे वाली का किरदार निभा सकीं. उन्‍होंने बताया कि पैर फ्रैक्‍चर होने के बावजूद ढाबे वाली की तरह मटक – मटक कर चलना आसान नहीं था. मगर निर्देशक, फिल्‍म की कास्‍ट और स्‍थानीय लोगों के उम्‍मीद को देख कर मैंने यह किया. इस फिल्म के सभी यूनिट ने मुझे बहुत सपोर्ट किया.
उन्‍होंने फिल्‍म को लेकर बताया कि ‘ये इश्‍क बड़ा बेदर्दी है’ काफी कमर्सियल फिल्‍म है और इसमें मेरा किरदार एकदम डिफरेंट है. एक ढाबे वाली का किरदार, जो आज तक मैंने कभी नहीं किया. इसमें कॉमेडी भी है. रोमांस भी है. एक्‍शन भी है. रोहित राज यादव और गुंजन पंत ने भी फिल्‍म में काफी अच्‍छी एक्टिंग की है. हालांकि मेरी और गुंजन की कोई साथ में सीन नहीं है, फिर भी हमने सेट पर काफी मस्‍ती की है. फिल्‍म में जहां मैं हूं, वहां कॉमेडी और जहां गुंजन है, वहां रोमांस देखने को मिलेगा. कुल मिलाकर पैसा वसूल फिल्‍म है. बांकी इस फिल्‍म में गाने बेहद अच्‍छे हैं. कहानी में मजा आयेगा. रानी ने हाट केक अंजना सिंह से नोंक झोंक के सवाल पर कहा कि अंजना बहुत प्‍यारी हैं. उनसे हमारा नोंक झोंक चलते रहता है, मगर वो मस्‍ती – मजाक वाला होता है. उसमें ऐसी कोई बात नहीं है. रानी ने मां शांति इंटरटेंमेंट के बैनर तले बनी फिल्‍म ‘ये इश्‍क बड़ा बेदर्दी है’ को लेकर कहा कि ये एक सामाजिक फिल्‍म है, इसलिए सभी अपने परिवार के साथ देखें.


(हंगामा मीडिया)

Share Button

Leave a Reply